हिमाचल प्रदेश – एक परिचय | himachal pradesh 2022

0
271
हिमाचल प्रदेश
हिमाचल प्रदेश

हिमाचल प्रदेश – एक परिचय | Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश भारत के उत्तर में स्थित एक पहाड़ी राज्य है जोकि 25 जनवरी 1971 को भारत का एक पूर्ण राज्य बना। हिमाचल को इसकी ठंडी जलवायु के लिए जाना जाता है। हिमाचल के पहाड़ी इलाको में प्रत्येक बर्ष बर्फ पड़ती है, जिसका आनंद लेने विश्व से लाखों लोग आते है। यहाँ देवी देवताओं पर अत्यधिक विश्वास  है जिस कारण इसे देवभूमि के नाम से भी जाना जाता है।

भारत का राज्य – हिमाचल प्रदेश

भारत में स्थिति – भारत का उत्तरी सीमा पर उपस्थित राज्य

हिमाचल का क्षेत्रफल – 55673 वर्ग किलोमीटर

हिमाचल के कुल जिले – 12

हिमाचल के 12 जिले
चम्बा
कांगड़ा
बिलासपुर
हमीरपुर
शिमला
किन्नौर
लाहौल-स्पीति
मंडी
unna (उन्ना)
सिरमौर
कुल्लू
सोलन

उच्च न्यायालय – शिमला

हिमाचल प्रदेश की राजधानी – शिमला

हिमाचल का राजकीय पशु – हिम तेंदुआ

हिमाचल का राक्षीयजकीय पक्षी – वेस्टर्न ट्रोगोपोन

हिमाचल का राजकीय वृक्ष – देवदार

हिमाचल का राजकीय पुष्प – रोहोडोडेन्ड्रोड

हिमाचल प्रदेश की भौगोलिक स्थिति – अक्षांशीय और देशांतरीय विस्तार 32° 22′ उत्तर से 33° 12 उत्तर तक, देशांतरीय विस्तार – 75° 47 पूर्व से 79° 6 पूर्व तक।

हिमाचल प्रदेश की सरकारी वेबसाइट – himachal.nic.in

हिमाचल की सीमाएं किन किन राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों से लगती है? – 

  1. उत्तर में जम्मू-कश्मीर
  2. दक्षिण में हरियाणा
  3. दक्षिण पूर्व में उत्तराखंड
  4. उत्तर प्रदेश
  5. दक्षिण पश्चिम में पंजाब

हिमाचल की सीमा पूर्व में तिब्बत (चीन) के साथ भी लगती है। 

जनसंख्या – 6864602 (2011 की जनगणना के अनुसार)

  • पुरुष – 3481873 (2011 की जनगणना के अनुसार)
  • महिला – 3382729 (2011 की जनगणना के अनुसार)

0-6 वर्ष के आयु वर्ग की जनसंख्या – 777898

  • बालक – 407459
  • बालिका – 370439
  • 0-6 वर्ष के आयु वर्ग का लिंगानुपात –  909

जनसंख्या वृद्धि दर – 12.9% (2011 की जनगणना के अनुसार)

हिमाचल प्रदेश की साक्षरता  – 82.8%

  • पुरुष साक्षरता – 89.5%
  • महिला साक्षरता – 79.9%

कुल साक्षर व्यक्ति – 5039736

  • पुरुष साक्षर – 2752590
  • महिला साक्षर – 2287146

हिमाचल प्रदेश का लिंग अनुपात – 972 ( 1 हजार परुषों पर 972 महिलाएं)

जनसंख्या घनत्व – 123 (123 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर)

हिमाचल में बोली जाने बाली बोलियाँ अथवा भाषाएँ –

  1. हिंदी (राजयभषा)
  2. पहाड़ी (खड़ी बोली)
  3. मंडाली
  4. चम्ब्याली
  5. पंजाबी
  6. कांगड़ी
  7. लाहौली
  8. गद्दी भाषा
  9. कुल्लुति

हिमाचल प्रदेश का राज्य दिवस – 15 अप्रैल

हिमाचल के पर्वत –

  1. शिवालिक
  2. पीरपंजाल
  3. जास्कर
  4. धौलाधार
  5. मध्य हिमालय
  6. बृहद हिमालय

प्रमुख शिखर –

  1. शिल्ला (7026 मीटर)
  2. देव टिब्बा (6000 मीटर)
  3. रियो परगयाल (6791 मीटर)
  4. चूड़धार (3637 मीटर)

हिमाचल के प्रमुख दर्रे या जोत – 

दर्रे का नाम समुद्र तल से ऊंचाई स्थिति
ललुनि जोत 5440 मीटर लाहौल-स्पीति
मकोड़ी जोत 5190 मीटर कांगड़ा
दराटी दर्रा 4720 मीटर चम्बा
कुंजम दर्रा 4520 मीटरलाहौल-स्पीति
शिपकिला 4500 मीटरलाहौल-स्पीति
साच दर्रा 4395 मीटरचम्बा-पांगी
रोहतांग दर्रा 3978 मीटरकुल्लू-लाहौल
गढ़ु जोत 3730 मीटरकुल्लू
बालेणी जोत 3730 मीटरकांगड़ा-चम्बा
जालसू की जोत 3450 मीटर कांगड़ा-चम्बा
खैली गलु 3440 मीटर कुल्लू
रसोल जोत 3230 मीटर कुल्लू
पादरी दर्रा 3050 मीटर चम्बा-जम्मू
दुल्ची दर्रा 2788 मीटर मण्डी-कुल्लू
सोदन दर्रा 2400 मीटर चम्बा-भटियात

हिमाचल की प्रमुख नदियाँ –

  1. सतलुज
  2. व्यास
  3. चिनाव
  4. रावी
  5. टोंस
  6. गिरी
  7. बाटा
  8. यमुना

झीलें

  1. पराशर
  2. रिवालसर
  3. महाकाली
  4. तत्तापानी
  5. मणिमहेश
  6. सूरजताल
  7. चन्द्रतल
  8. चन्द्रनाहन

बांध से निर्मित झीलें –  गोविन्द सागर, पौंग सागर झील।

सिंचाई तथा जल – गिरिबाटा, शाहनगर आदि।

विधुत परियोजनाएं – 

  • बैरा सियोल
  • पार्वती विद्युत परियोजना
  • कोल बांध योजना
  • उलह नदी परियोजना
  • संजय विद्युत परियोजना
  • नाथपा झाकरी परियोजना
  • बिनवा परियोजना

हिमाचल प्रदेश की जलवायु – हिमाचल प्रदेश के उत्तरी भाग में उष्णार्ध जलवायु पाई जाती है तथा शीत ऋतू में यहाँ वर्फ पड़ती है। हिमाचल प्रदेश में सर्वाधिक वर्षा धर्मशाला में होती है। हिमाचल प्रदेश में औसत वर्षा प्रतिबर्ष 181.1 सेंटीमीटर होती है। हिमाचल का ग्रीष्मकाल में तापमान 18°  सेंटीग्रेड तक होता है। यहाँ का शीतकाल का तापमान 2° सेंटीग्रेड होता है।

विधानमंडल – एक सदनात्मक (विधानसभा)

  • कुल विधानसभा सदस्य – 68
  • कुल लोकसभा सदस्य – 4 
  • कुल रजयसभा सदस्य – 3 

हिमाचल में कृषि – 

हिमाचल प्रदेश भारत के उन जिलों में से है जहां पर अत्यधिक खेती की जाती हिमाचल के 76% प्रतिशत लोग कृषि का व्यवसाय करते हैं और उनकी आय का मुख्य स्रोत कृषि ही है। हिमाचल प्रदेश में गेहूं, मक्का, चावल, जो, दालें,आलू, सब्जियां तथा तिलहन प्रमुख फसलें हैं तथा इसके अतिरिक्त प्रमुख वालों में नाशपती, खुबानी, अंगूर, रसदार फल आलू बुखारा, आडू एवं सुपारी है।

वन – 

हिमाचल प्रदेश के कुल क्षेत्रफल में 68 प्रतिशत भाग पर वन पाए जाते हैं, जिनसे इमारती लकड़ी, इंधन की लकड़ी, गोंद, और बिरोजा प्राप्त होता है। हिमाचल में अनेक प्रकार के वन पाए जाते हैं इन वनों में तरह-तरह की औषधियां तथा जड़ी बूटियां पाई जाती है। हिमाचल को वनों की धरोहर माना जाता है।

खनिज – 

  1. चट्टानी नमक – मंडी
  2. चूना पत्थर – बिलासपुर, सिरमौर, मंडी
  3. स्लेट – बिलासपुर, चम्बा, सिरमौर
  4. जिप्सम – सिरमौर
  5. यूरेनियम – कुल्लू
  6. बैराइट्स
  7. डोलोमाइट
  8. पायराइट्स

हिमाचल के प्रमुख उद्योग – फ्रूट प्रोसेसिंग, इलेक्ट्रॉनिक उद्योग, सीमेंट, उर्वरक, धर्मकोट, शराब, अखबारी कागज, तारपीन का तेल, बंदूक निर्माण, लकड़ी पर खुदाई का काम, गलीचा का निर्माण, चीनी उद्योग, चमड़े की वस्तुएं, उन्नी कंबल, मिट्टी के बर्तन, बिरोजा तैयार करना, विद्युत मीटर, विद्युत बल्ब, गाड़ियों के कलपुर्जे, ट्रांजिस्टर आदि।

हवाई अड्डे – जब्बार हारथी (शिमला), भंटार (कुल्लू), गग्गल (कांगड़ा)

हिमाचल प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थल – 

  • कुल्लू
  • कांगड़ा
  • शिमला
  • कुफरी
  • खज्जियार
  • डलहौजी
  • कसौली
  • ज्वालाजी
  • चामुंडा देवी
  • नारकण्डा

इनके अतरिक्त भी हिमाचल प्रदेश में घूमने के लायक बहुत से पर्यटन स्थल है जहाँ हर साल लाखों की तादात में लोग घूमने आते है तथा जिंदगी के मजे लेते है।

हिमाचल के मुख्य राष्ट्रिय पार्क या उदयान – 

  1. ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क
  2. रोहला राष्ट्रिय पार्क

वन्यप्राणी विहार – शिकारी देवी अभ्यारण, चायल, दरन घाटी आदि।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here